सऊदी अरब युवराज की बड़ी घोषणा, जल्द राजा बिन सलमान के ख़िलाफ़ विद्रोह और घुटने पर लाउँगा राजकुमारों को

सऊदी अरब के एक युवराज ने कहा है कि बहुत ही जल्द दुनिया मोहम्मद बिन सलमान के ख़िलाफ़ शाही परिवार के राजकुमारों द्वारा किए जाने वाले विद्रोह को देखेगी।

 

प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार आले सऊद परिवार से अलग राजकुमार ने दावा किया है कि मोहम्मद बिन सलमान के द्वारा की जा रही मनमानी कार्यवाहियों के कारण शाही परिवार के बीच दिन प्रतिदिन विवाद गहराता जा रहा है और अब यह बात निश्चित रूप से कही जा सकती है कि आने वाली दिनों में सऊदी युवराज के ख़िलाफ़ कभी भी विद्रोह हो सकता है।

सउदी राजकुमार ख़ालिद बिन फरहान, जिन्होंने जर्मनी में शरण ले रखी है और जो सोशल मीडिया पर काफी सक्रिय हैं,  ने दावा किया है कि सऊदी युवराज मोहम्मद बिन सलमान की ग़लत नीतियां और उनकी मनमानी कार्यवाहियां, विशेषकर फ़िलिस्तीन की जनता के ख़िलाफ़ अमरीका की शत्रुतापूर्ण नीतियों को आगे बढ़ाने और सेंचुरी डील को लागू करने में वॉशिंग्टन और तेलअवीव की समर्थन में काम करने पर कड़ी आलोचना हो रही है।

ख़ालिद बिन फरहान ने कहा कि इस्राईल के साथ संबंधों को मज़बूत बनाने के लिए सेंचुरी डील को लागू कराने के लिए मोहम्मद बिन सलमान की जल्दबाज़ी केवल इसलिए है कि वह अमेरिका की ग़ुलामी करके हर हाल में सऊदी अरब के सिंहासन पर बैठना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि यह सभी ऐसी चीज़े हैं जिसने शाही परिवार के भीतर विवाद को बढ़ावा दिया है जिसको देखते हुए यह कहा जा सकता है कि आने वाले दिनों में दुनिया सऊदी अरब में आले सऊद के ख़िलाफ़ विद्रोह होता देखेगी।

दूसरी ओर इस्राईल के एक समाचर पत्र ने लिखा है कि चार अरब देशों, सऊदी अरब, संयुक्त अरब इमारात, मिस्र और जॉर्डन ने फ़िलिस्तीन के ख़िलाफ़ अमेरिका की साज़िशी परियोजना सेंचुरी डील को स्वीकार कर लिया है।

Bitnami