बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राष्ट्रीय जनता दल अध्यक्ष और पूर्व सीएम लालू प्रसाद को फोन किया था. जिसके बाद से बिहार की सियासत गर्म हो गई है. हालांकि मुख्यमंत्री नीतीश ने राजद मुखिया लालू के स्वास्थ्य का हाल जानने के लिए फोन किया था. लेकिन इसे सियासी अटकलों के नई संभावनाओं से जोड़ कर देखा जा रहा है. जिसके बाद इसपर जदयू तरफ से नया बयान आया है.

जदयू के मुताबिक मुख्यमंत्री ने पूर्व मुख्यमंत्री का हाल जानने के लिए फोन किया था, इसपर राजनीति करना ठीक नहीं है. जेडीयू प्रवक्ता संजय सिंह का कहना है कि शिष्टाचार के तौर पर की गई बातचीत को राजनीति से जोड़ना उचित नहीं है. उन्होंने कहा कि फिलहाल आरजेडी से नजदीकी बढ़ने का कोई सवाल ही पैदा नहीं होता. पार्टी प्रवक्ता ने अफवाह फैलाने के लिए विपक्षी दलों की आलोचना भी की. इधर, बीजेपी नेता नंद किशोर यादव ने भी इस मामले में राजनीति करने के लिए विपक्षी दलों को घेरा है.

बता दें कि सोमवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लालू से उनकी तबियत के सिलसिले में फोन पर बातचीत की और उनका हालचाल पूछा. उन्होंने फोन पर उनकी स्वास्थ्य की जानकारी ली और जल्द स्वस्थ होने की कामना की. मालूम हो कि हाल ही में लालू यादव के जन्मदिन पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ट्वीट कर जन्मदिन की बधाई दी थी और उनके स्वास्थ्य लाभ के लिए प्रार्थना की थी.

मालूम हो कि चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता लालू प्रसाद अभी हेल्थ चेकअप के लिए छह हफ्ते के लिए जमानत पर बाहर हैं. उनका इलाज मुंबई के एशियन हार्ट इंस्टीट्यूट में किया जा रहा है. काफी समय से लालू यादव बीमार चल रहे हैं, इस समय वो मुंबई में इलाज करा रहे हैं.