पिता होमगार्ड और चाचा अरब में नौकर और उनकी बेटी मैट्रिक में सहरसा टॉपर बनी हैं। जिला टॉपर श्रेया कुमारी जिला गर्ल्स स्कूल की मेधावी छात्रा है। बचपन से ही श्रेया हर क्लास में अच्छे अंक से सफलता हासिल करती थी। मैट्रिक परीक्षा में उसने जिलेभर के छात्र-छात्राओं को पीछे छोड़ते सर्वाधिक 436 अंक पाए हैं।

 

शहर के नया बाजार निवासी सहरसा में कार्यरत होमगार्ड के जवान महेन्द्र भगत और गृहिणी रेणु देवी को जैसे ही अपनी पुत्री के जिला टॉपर बनने की जानकारी मिली खुशी के आंसू रुक नहीं पाए। श्रेया कुमारी ने अपनी सफलता का श्रेय पिता एवं माता सहित गुरुजनों को दिया है।

 

उन्होंने बताया कि आगे चलकर सिविल सर्विसेस की तैयारी करेंगी और आईएएस बनना चाहती हैं।  श्रेया के जिले में प्रथम आने पर स्थानीय लोग उनके यहां बधाई देने पहुंचने लगे हैं। माता-पिता ने कहा कि वह शुरू से ही मेधावी है।

 

वही इसकी जानकारी मिलते ही चाचा के भी आशु नही रुके उन्होंने फ़ोन पर भिंगे आवाज़ में कहा, बिटिया तमने हमारी सारी मेहनत आज सफल कर दी, तोहरे हम पूरा जन्म काम करबे तू अफ़सर बन जा.